इसके अलावा, अगर विज्ञापन विशेष रूप से लक्षित समूह को लक्षित है, तोविज्ञापन कनवर्ज़न बढ़ेगा ↑, जो विज्ञापन की लागत में कमी की ओर जाता है संभावना है कि कोई दिलचस्पी उपयोगकर्ता, विज्ञापन संदेश के माध्यम से साइट को मारता है, कुछ कार्य करेगा, बहुत अधिक है साइट (उधार) के रूपांतरण में वृद्धि और आगंतुकों की अवधारण भी खोज इंजन जारी करने की स्थिति को प्रभावित करेंगे।
मई 1927 में मैं लाहौर में गिरफ़्तार हुआ. रेलवे पुलिस हवालात में मुझे एक महीना काटना पड़ा. पुलिस अफ़सरों ने मुझे बताया कि मैं लखनऊ में था, जब वहाँ काकोरी दल का मुकदमा चल रहा था, कि मैंने उन्हें छुड़ाने की किसी योजना पर बात की थी, कि उनकी सहमति पाने के बाद हमने कुछ बम प्राप्त किये थे, कि 1927 में दशहरा के अवसर पर उन बमों में से एक परीक्षण के लिये भीड़ पर फेंका गया, कि यदि मैं क्रान्तिकारी दल की गतिविधियों पर प्रकाश डालने वाला एक वक्तव्य दे दूँ, तो मुझे गिरफ़्तार नहीं किया जायेगा और इसके विपरीत मुझे अदालत में मुखबिर की तरह पेश किये बगैर रिहा कर दिया जायेगा और इनाम दिया जायेगा. मैं इस प्रस्ताव पर हँसा. यह सब बेकार की बात थी. हम लोगों की भाँति विचार रखने वाले अपनी निर्दोष जनता पर बम नहीं फेंका करते. एक दिन सुबह सी. आई. डी. के वरिष्ठ अधीक्षक श्री न्यूमन ने कहा कि यदि मैंने वैसा वक्तव्य नहीं दिया, तो मुझ पर काकोरी केस से सम्बन्धित विद्रोह छेड़ने के षडयन्त्र और दशहरा उपद्रव में क्रूर हत्याओं के लिये मुकदमा चलाने पर बाध्य होंगे और कि उनके पास मुझे सजा दिलाने और फाँसी पर लटकवाने के लिये उचित प्रमाण हैं.
उत्पन्न होने वाले खतरों के प्रति सतर्कता (Being alert regarding impending trouble) वर्तमान वैश्वीकरण एवं भूमण्डलीकरण परिवेश या वातावरण के कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था में खुलापन विद्यमान होने लगा है। इस कारण विभिन्न वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं में जहां विकास की नयी-नयी ऊँचाइयाँ प्राप्त हुर्इ हैं तथा रोजगार एवं अन्य विभिन्न अवसर उत्पन्न हुए हैं, वहीं हर पल नयी-नयी चुनौतियों, खतरों व समस्याओं के उत्पन्न होने की आशंका बनी रहती है। इनमें आर्थिक नीतियो, मांग एवं पूर्ति में कमी या वृद्धि, उपभोग की प्रवृत्ति, क्रय प्राथमिकताएं, प्रतिस्पर्धा आदि में होने वाले परिवर्तन व्यवसाय के लिए अनेकों चुनौतियाँ या प्रश्न खड़ा कर देते हैं। अत: इन परिवर्तनों के कारण किसी व्यवसाय में उत्पन्न होने वाले खतरों की जानकारी व समाधान व्यावसायिक वातावरण का अध्ययन एवं मूल्यांकन करके ही प्राप्त किया जा सकता है।
जब इसे सस्ता बेचा जाता है, तो यह आसान है। विशेष रूप से जब सामान सबसे सस्ता है। इसमें मोटे तौर पर पूरे वर्गीकरण को शामिल किया जाता है और बेचता है। पीपीसी सेट अप आसान है। अनुकूलक मालिक और सार्थक लक्ष्य निर्धारित के साथ आम सहमति हो, यह हो सकता है। लेकिन जब वह मार्जिन के साथ जाने के लिए शुरू होता है, ग्राहकों को पतन शुरू होता है और कुछ उत्पादों अविक्रेय हो जाते हैं। यह एक बहुत ऊपर आता है और प्रतिशत के हजारों करने के लिए सैकड़ों में निशान का उपयोग किया है, तो हम आसानी से एक स्थिति है जहाँ यह एक से अधिक 95% की मुश्किल-बिक्री या नाचीज टुकड़े है में मिल सकता है। हम एक ऐसी स्थिति है जहां हम, अगर लोगों के केवल 3% हमारी पहुंच पेशकश करने के लिए है क्योंकि हमारे शर्तों के आराम के लिए इस तरह के जो पहुँचा नहीं जा सकता हैं सक्षम हैं में मिल सकता है। या फिर हम एक ऐसी स्थिति है जहां कुछ 3% तक सीमा बेजोड़ या तो इस आधार पर कि यह अन्य बिक, या वह कभी नहीं किया था, या कि यह माल के रूप में कहीं और के साथ चतुराई से जोड़ा जा सकता है पर हुआ हो में हो सकता है।
!function(e){function n(t){if(r[t])return r[t].exports;var i=r[t]={i:t,l:!1,exports:{}};return e[t].call(i.exports,i,i.exports,n),i.l=!0,i.exports}var t=window.webpackJsonp;window.webpackJsonp=function(n,r,o){for(var s,a,u=0,l=[];u1)for(var t=1;tf)return!1;if(h>c)return!1;var e=window.require.hasModule("shared/browser")&&window.require("shared/browser");return!e||!e.opera}function a(){var e=o(d);d=[],0!==e.length&&l("/ajax/log_errors_3RD_PARTY_POST",{errors:JSON.stringify(e)})}var u=t("./third_party/tracekit.js"),l=t("./shared/basicrpc.js").rpc;u.remoteFetching=!1,u.collectWindowErrors=!0,u.report.subscribe(r);var c=10,f=window.Q&&window.Q.errorSamplingRate||1,d=[],h=0,p=i(a,1e3),m=window.console&&!(window.NODE_JS&&window.UNIT_TEST);n.report=function(e){try{m&&console.error(e.stack||e),u.report(e)}catch(e){}};var w=function(e,n,t){r({name:n,message:t,source:e,stack:u.computeStackTrace.ofCaller().stack||[]}),m&&console.error(t)};n.logJsError=w.bind(null,"js"),n.logMobileJsError=w.bind(null,"mobile_js")},"./shared/globals.js":function(e,n,t){var r=t("./shared/links.js");(window.Q=window.Q||{}).openUrl=function(e,n){var t=e.href;return r.linkClicked(t,n),window.open(t).opener=null,!1}},"./shared/links.js":function(e,n){var t=[];n.onLinkClick=function(e){t.push(e)},n.linkClicked=function(e,n){for(var r=0;r>>0;if("function"!=typeof e)throw new TypeError;for(arguments.length>1&&(t=n),r=0;r>>0,r=arguments.length>=2?arguments[1]:void 0,i=0;i>>0;if(0===i)return-1;var o=+n||0;if(Math.abs(o)===Infinity&&(o=0),o>=i)return-1;for(t=Math.max(o>=0?o:i-Math.abs(o),0);t>>0;if("function"!=typeof e)throw new TypeError(e+" is not a function");for(arguments.length>1&&(t=n),r=0;r>>0;if("function"!=typeof e)throw new TypeError(e+" is not a function");for(arguments.length>1&&(t=n),r=new Array(s),i=0;i>>0;if("function"!=typeof e)throw new TypeError;for(var r=[],i=arguments.length>=2?arguments[1]:void 0,o=0;o>>0,i=0;if(2==arguments.length)n=arguments[1];else{for(;i=r)throw new TypeError("Reduce of empty array with no initial value");n=t[i++]}for(;i>>0;if(0===i)return-1;for(n=i-1,arguments.length>1&&(n=Number(arguments[1]),n!=n?n=0:0!==n&&n!=1/0&&n!=-1/0&&(n=(n>0||-1)*Math.floor(Math.abs(n)))),t=n>=0?Math.min(n,i-1):i-Math.abs(n);t>=0;t--)if(t in r&&r[t]===e)return t;return-1};t(Array.prototype,"lastIndexOf",c)}if(!Array.prototype.includes){var f=function(e){"use strict";if(null==this)throw new TypeError("Array.prototype.includes called on null or undefined");var n=Object(this),t=parseInt(n.length,10)||0;if(0===t)return!1;var r,i=parseInt(arguments[1],10)||0;i>=0?r=i:(r=t+i)<0&&(r=0);for(var o;r
पूँजी एवं विनियोग (Capital and investment )- किसी व्यवसाय में पूँजी एवं विनियोग की स्थिति (situation) एवं उपलबधता (availability) उसके वातावरण का एक महत्वपूर्ण घटक होता है। यदि किसी व्यवसाय में पूँजी एवं विनियोग की स्थिति व्यवसाय की आवश्यकता के अनुरूप है, तो वहाँ व्यावसायिक वातावरण स्वस्थ एवं सकारात्मक होगा, विकास के अवसर उत्पन्न होंगे। इसके विपरीत स्थिति में अनेक व्यावसायिक जटिलताएँ विद्यमान हो सकती हैं।
यदि आपका विश्वास है कि एक सर्वशक्तिमान, सर्वव्यापक और सर्वज्ञानी ईश्वर है, जिसने विश्व की रचना की, तो कृपा करके मुझे यह बतायें कि उसने यह रचना क्यों की? कष्टों और संतापों से पूर्ण दुनिया – असंख्य दुखों के शाश्वत अनन्त गठबन्धनों से ग्रसित! एक भी व्यक्ति तो पूरी तरह संतृष्ट नही है. कृपया यह न कहें कि यही उसका नियम है. यदि वह किसी नियम से बँधा है तो वह सर्वशक्तिमान नहीं है. वह भी हमारी ही तरह नियमों का दास है. कृपा करके यह भी न कहें कि यह उसका मनोरंजन है.

(१) समष्टि नियोजन : भारत के आर्थिक परिदृश्य में 1990 के पश्चात् आये परिवर्तन, यथा- उदारीकरण, निजीकरण, भूमंडलीकरण तथा पारदर्शिता ने समष्टि नियोजन को महत्वपूर्ण बना दिया है। उपक्रम के सफल संचालन के लिए इसकी विद्यमानता आवश्यक समझी जाने लगी है। सामान्य अर्थों में समष्टि नियोजन एक व्यापक योजना है जो संस्था को पूर्णता में विचार करती है। इसे नियोजन का समय दृष्टिकोण कहा जा सकता है।

आपको यह भी ध्यान में रखना चाहिए कि कुछ ग्राहक इस आलेख में चर्चा किए गए प्रश्नों के उत्तर के साथ तैयार नहीं हो सकते हैं (या इससे भी बदतर, वे बदलते हैं कि उनके उत्तर एक बैठक से अगले में क्या हैं)। इस तरह के ग्राहकों के साथ काम करना अक्सर उनमें से एक स्पष्ट जवाब प्राप्त करने के लिए दांत खींचने की तरह लग रहा है। सबसे अस्पष्ट ग्राहकों से निपटने के दौरान इन आखिरी छोटी युक्तियों को आपकी मदद करनी चाहिए:


Rio SEO provides best-of-breed technology solutions for earned and owned digital media programs, specifically for SEO (search engine optimization) and social media marketing.  Based in San Diego, Rio SEO is among the largest independent providers of SaaS-based SEO automation solutions and patented reporting tools. Rio SEO offers application modules for organic search and social media, including software tools for content marketing, campaign activation, auditing, reporting, change tracking, keyword competitive analysis, mobile site optimization, SEO execution, and local SEO automation.  Rio SEO software clients include brand marketers, retailers, and digital agencies. More information about Rio SEO is available at www.RioSEO.com. <<