क्या इस महान ध्येय के प्रति उनके गर्व को अहंकार कहकर उसका गलत अर्थ लगाया जायेगा? कौन इस प्रकार के घृणित विशेषण बोलने का साहस करेगा? या तो वह मूर्ख है या धूर्त. हमें चाहिए कि उसे क्षमा कर दें, क्योंकि वह उस हृदय में उद्वेलित उच्च विचारों, भावनाओं, आवेगों और उनकी गहराई को महसूस नहीं कर सकता. उसका हृदय मांस के एक टुकड़े की तरह मृत है. उसकी आँखों पर अन्य स्वार्थों के प्रेतों की छाया पड़ने से वे कमज़ोर हो गयी हैं. स्वयं पर भरोसा रखने के गुण को सदैव अहंकार की संज्ञा दी जा सकती है. यह दुखपूर्ण और कष्टप्रद है, पर चारा ही क्या है?
उन्होंने बताया कि भगत सिंह को जब फांसी के लिए ले जाया जा रहा था तब लाहौर सेंट्रल जेल के वार्डन सरदार चतर सिंह ने उनसे आखिरी वक़्त ईश्वर को याद करने को कहा. भगत सिंह ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया था कि सारी जिंदगी दुखियों और गरीबों के कष्ट देखकर मैं ईश्वर को नकारता रहा, और अब मैं उन्हें याद करूंगा तो लोग मुझे बुजदिल समझेंगे और कहेंगे कि देखो ये आखिरी वक़्त मौत से डर गया. उनके इस कथन से इस बात का इशारा मिलता है वो नास्तिक नहीं थे इसलिए इतिहासकारों के जानिब से उन्हें नास्तिक बताया जाना गलत है.
खोज इंजन दृश्यता काम करता है लेकिन आप इसे करने की जरूरत है। हमारे एसईओ उपकरण अपनी वेबसाइट का विश्लेषण और आप खोज शब्दों और कीवर्ड कि अपनी वेबसाइट पर यातायात में वृद्धि कर सकते को पहचानने में मदद। एक बार जब आप अपनी वेबसाइट की सामग्री में खोज शब्दों और कीवर्ड डालने के बाद, दुनिया के शीर्ष खोज इंजन में अपनी साइट सबमिट करने के लिए हमारी एक-क्लिक साइट प्रस्तुत उपकरण का उपयोग। और अधिक विस्तार के लिए, आप का विश्लेषण और हमारी साइट नक्शा निर्माता के लिए हमारे कीवर्ड जनरेटर से एसईओ उपकरण की एक विस्तृत विविधता के साथ अपनी साइट का अनुकूलन, कर सकते हैं।
खाद्य मताधिकार क्षेत्र बहुत विशाल है, विभिन्न श्रेणियां मौजूदा हैं सड़क भोजन, फास्ट फूड, कॉफी, शाकाहारी और गैर-शाकाहारी और पारंपरिक रेस्तरां बाकी की तुलना में अंडे का व्यवसाय अलग सेगमेंट है हाल के रिपोर्टों के अनुसार, पिछले वर्षों की तुलना में विश्व स्तर पर अंडे का उपभोग और उत्पादन दोगुना हो गया है। यह उन लोगों के लिए अच्छी खबर है जो अंटी रेस्तरां को सेट करना चाहते हैं भारत में, संगठित बाजार का 30% हिस्सा है, इसका मतलब है कि स्थानीय विक्रेताओं सार्वजनिक क्षेत्रों, कॉर्पोरेट कार्यालयों, स्कूलों और कॉलेजों से अंडा व्यंजन पेश करते हैं। इसके अलावा, खाद्य अवधारणा इन दिनों लोकप्रिय हो रही है; उदाहरण के लिए, अंडेवाला का खाना विजयवाड़ा (आंध्र प्रदेश) में सफलतापूर्वक चल रहा है। वर्तमान में लगभग 50 से 60 प्रसिद्ध ब्रांड हैं जो क्यूएसआर प्रारूप में अंडा व्यंजन पेश करते हैं।
A इनबाउंड मार्केटिंग का अनुवाद यह आकर्षण विपणन या इनबाउंड विपणन है। यह नाम दिया गया है, ठीक है क्योंकि यह ए के तर्क को उलट देता है बिक्री टीम। शास्त्रीय विधि में, के रूप में जाना जाता है आउटबाउंड मार्केटिंगविक्रेता को अपने अवसर तलाशना चाहिए। इनबाउंड संभावित ग्राहकों की एक बड़ी संख्या को आकर्षित करने और संलग्न करने का प्रयास करता है, जिसे जाना जाता है ओर जाता है। संपर्क केवल व्यापारी के पास होते हैं जब वे बिक्री के लिए "परिपक्व" होते हैं।

अंत में, हमेशा क्लाइंट के ब्रांडिंग डाक्यूमेंट्स की कॉपी मांगना याद रखें (यदि उनके पास एक है)। इसमें वेक्टर या हाय-रेज प्रारूप, लोगो उपयोग दिशानिर्देशों में उनके लोगो को भी शामिल करना चाहिए और उन्हें उन फ़ॉन्ट्स की कॉपी देने के लिए कहें जिन्हें वे उपयोग करते हैं क्योंकि अगर वे खरीदे गए हैं या उनके लिए इसे अनुकूलित किया गया है तो उन्हें स्वतंत्र रूप से प्राप्त करना मुश्किल हो सकता है (लेकिन ध्यान दें कि आपको इसे अपने डिजाइन के अलावा किसी अन्य चीज़ के लिए उपयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि कई फोंट कॉपीराइट किए गए हैं)


वित्तीय एवं आर्थिक दबाव (Financial and economic pressure )- यदि किसी देश में या किसी व्यवसाय में वित्तीय एवं आर्थिक दबाव की मात्रा अधिक है, तो वहाँ के उद्योगों पर भी दबाव पड़ता है, वह आर्थिक एवं वित्तीय दबाव ऋण पर ब्याज, अधिक लाभ एवं लाभांश, पूँजी वापसी, कर का भुगतान आदि के रूप में पड़ सकता है। इन दबावों के बीच व्यवसाय को अपना कार्य संचालित करना पड़ता है। अत: ये वित्तीय एवं आर्थिक दबाव व्यावसायिक वातावरण के निर्धारण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
कभी-कभी सहकर्मी विश्लेषण कहा जाता है, यह मूल रूप से एक तालिका है जो आपके ग्राहक की प्रतिस्पर्धी वेबसाइटों की सभी सुविधाओं और घटकों को सूचीबद्ध करता है और प्रत्येक का एक स्क्रीनशॉट सूचीबद्ध करता है। यह डिज़ाइन से सीधे संबंधित प्रतीत नहीं होता है, लेकिन इस शोध को करने और इस तरह की एक रिपोर्ट के साथ अपने ग्राहक को प्रदान करने से आपके डिजाइन में निचोड़ने की आवश्यकता वाले भूल गए घटकों के कारण बाद में संशोधनों को कम किया जाएगा।
व्यावसायिक प्रतिद्वन्द्वी (Business competitior) व्यावसायिक प्रतिद्वन्द्वी का सदैव यह प्रयास रहता है कि वह व्यावसायिक दृष्टिकोण से आगे निकल जाय। अत: यदि किसी व्यवसाय में कड़ी प्रतिस्पर्धा (competition) विद्यमान है तथा कर्इ प्रतिद्वन्द्वी हैं, तो ऐसी स्थिति में व्यवसायी को प्रति इकार्इ कम लाभ से ही सन्तोष करना पड़ता है। इसके विपरीत यदि प्रतिस्पर्धा कम या नहीं है, तो व्यवसाय में प्रति इकार्इ उत्पादन पर अधिक लाभ कमाने की सम्भावना रहती है। साथ ही साथ व्यावसायिक प्रतिद्वन्द्वी आर्थिक एवं व्यावसायिक रूप से सुदृढ़ है, तो भी व्यवसाय पर असर पड़ता है। अत: स्पष्ट है कि व्यावसायिक प्रतिद्वन्दिता की सीमा, दृढ़ता आर्थिक स्थिति आदि तत्व व्यावसायिक वातावरण को प्रभावित करने में सक्षम होते हैं।
लक्षित साइट दर्शक कौन है? अपने दर्शकों और उनकी जनसांख्यिकी (आयु समूह, लिंग, शिक्षा स्तर, ... आदि) की पहचान करना आपके डिजाइन निर्णयों को बहुत प्रभावित कर सकता है, उदाहरण के लिए बच्चों के लिए डिज़ाइनिंग वयस्कों के लिए डिज़ाइन से अलग है, भले ही उसके पास समान उद्देश्य या सामग्री कम हो। नीचे दिए गए उदाहरणों पर नज़र डालें: याहू और नेशनल ज्योग्राफिक वेबसाइट्स, वे दोनों बच्चों के संस्करण प्रदान करते हैं; ध्यान दें कि यह डिजाइन में बहुत अलग है।
आर्थिक प्रणालियों का अध्ययन (Study of economic system) आर्थिक प्रणाली का स्वरूप अर्थव्यवस्था में संलग्न व्यवसाय को प्रभावित करता है। विश्व की अर्थव्यवस्थाएं पूंजीवादी, समाजवादी, साम्यवादी तथा मिश्रित अर्थव्यवस्था के रूप में पायी जाती हैं। इन सभी अर्थव्यवस्थाओं की अपनी अलग-अलग विशेषताएं होती हैं, जो विभिन्न व्यवसायों को प्रतिकूल या अनुकूल रूप से प्रभावित करती हैं। तीव्र बदलते आर्थिक परिवेश में जहां समाजवादी तथा साम्यवादी अर्थव्यवस्थाएं, मिश्रित अर्थव्यवस्था की तरफ अग्रसर हो रही हैं वहीं मिश्रित अर्थव्यवस्थाएं, पूंजीवादी अर्थव्यवस्था की ओर अग्रसर हो रही हैं। इसलिए इन परिवर्तनों के कारण व्यवसाय पूर्ण रूप से प्रभावित होता है। इसलिए इन परिवर्तनों का अध्ययन करने के लिए व्यवसाय के सम्पूर्ण वातावरण का अध्ययन करना अति आवश्यक हो जाता है। इसलिए व्यावसायिक वातावरण के अध्ययन के उपरान्त ही व्यवसाय आवश्यक सुधारात्मक कार्यवाही करने में सक्षम होता है।

गरीबी एक अभिशाप है. यह एक दण्ड है. मैं पूछता हूँ कि दण्ड प्रक्रिया की कहाँ तक प्रशंसा करें, जो अनिवार्यतः मनुष्य को और अधिक अपराध करने को बाध्य करे? क्या तुम्हारे ईश्वर ने यह नहीं सोचा था या उसको भी ये सारी बातें मानवता द्वारा अकथनीय कष्टों के झेलने की कीमत पर अनुभव से सीखनी थीं? तुम क्या सोचते हो, किसी गरीब या अनपढ़ परिवार, जैसे एक चमार या मेहतर के यहाँ पैदा होने पर इन्सान का क्या भाग्य होगा? चूँकि वह गरीब है, इसलिये पढ़ाई नहीं कर सकता. वह अपने साथियों से तिरस्कृत एवं परित्यक्त रहता है, जो ऊँची जाति में पैदा होने के कारण अपने को ऊँचा समझते हैं. उसका अज्ञान, उसकी गरीबी और उससे किया गया व्यवहार उसके हृदय को समाज के प्रति निष्ठुर बना देते हैं. यदि वह कोई पाप करता है तो उसका फल कौन भोगेगा? ईष्वर, वह स्वयं या समाज के मनीषी? और उन लोगों के दण्ड के बारे में क्या होगा, जिन्हें दम्भी ब्राह्मणों ने जानबूझ कर अज्ञानी बनाये रखा और जिनको तुम्हारी ज्ञान की पवित्र पुस्तकों – वेदों के कुछ वाक्य सुन लेने के कारण कान में पिघले सीसे की धारा सहन करने की सजा भुगतनी पड़ती थी? यदि वे कोई अपराध करते हैं, तो उसके लिये कौन ज़िम्मेदार होगा? और उनका प्रहार कौन सहेगा?
रोमांस की जगह गम्भीर विचारों ने ले ली, न और अधिक रहस्यवाद, न ही अन्धविश्वास. यथार्थवाद हमारा आधार बना. मुझे विश्वक्रान्ति के अनेक आदर्शों के बारे में पढ़ने का खूब मौका मिला. मैंने अराजकतावादी नेता बुकनिन को पढ़ा, कुछ साम्यवाद के पिता मार्क्स को, किन्तु अधिक लेनिन, त्रात्स्की, व अन्य लोगों को पढ़ा, जो अपने देश में सफलतापूर्वक क्रान्ति लाये थे. ये सभी नास्तिक थे. बाद में मुझे निरलम्ब स्वामी की पुस्तक ‘सहज ज्ञान’ मिली. इसमें रहस्यवादी नास्तिकता थी. 1926 के अन्त तक मुझे इस बात का विश्वास हो गया कि एक सर्वशक्तिमान परम आत्मा की बात, जिसने ब्रह्माण्ड का सृजन, दिग्दर्शन और संचालन किया, एक कोरी बकवास है. मैंने अपने इस अविश्वास को प्रदर्शित किया. मैंने इस विषय पर अपने दोस्तों से बहस की. मैं एक घोषित नास्तिक हो चुका था.

Mann credited Ben Straley, co-founder of Meteor Solutions – who has joined Rio SEO as vice president of social technologies – along with the Seattle-based team, for expediting a smooth transition and fast integration since the acquisition was finalized late last year.  Straley now reports to Chris Reid, senior vice president and operating head of Rio SEO.


| project id=SourceComputerId, displayName=Computer, sourceComputerId=SourceComputerId, scopedToUpdatesSolution=true, missingCriticalUpdatesCount=coalesce(missingCriticalUpdatesCount, -1), missingSecurityUpdatesCount=coalesce(missingSecurityUpdatesCount, -1), missingOtherUpdatesCount=coalesce(missingOtherUpdatesCount, -1), compliance=coalesce(compliance, 4), lastAssessedTime, lastUpdateAgentSeenTime, osType=1, environment=iff(ComputerEnvironment=~"Azure", 1, 2), ComplianceOrder=coalesce(ComplianceOrder, 2)

कारावास की काल-कोठरियों से लेकर झोपड़ियों की बस्तियों तक भूख से तड़पते लाखों इन्सानों से लेकर उन शोषित मज़दूरों से लेकर जो पूँजीवादी पिशाच द्वारा खून चूसने की क्रिया को धैर्यपूर्वक निरुत्साह से देख रहे हैं और उस मानवशक्ति की बर्बादी देख रहे हैं, जिसे देखकर कोई भी व्यक्ति, जिसे तनिक भी सहज ज्ञान है, भय से सिहर उठेगा, और अधिक उत्पादन को ज़रूरतमन्द लोगों में बाँटने के बजाय समुद्र में फेंक देना बेहतर समझने से लेकर राजाओं के उन महलों तक जिनकी नींव मानव की हड्डियों पर पड़ी है- उसको यह सब देखने दो और फिर कहे – सब कुछ ठीक है! क्यों और कहाँ से? यही मेरा प्रश्न है. तुम चुप हो. ठीक है, तो मैं आगे चलता हूँ.
दीर्धकालीन नियोजन संस्थान के इरादों एवं अपेक्षाओं का वास्तविक प्रतिनिधि कहा जा सकता है। इसमें वातावरण में आये परिवर्तनों का समायोजन किया जाना आसान है और यह उपक्रम के विकास में तीव्रता लाता है। इसके अलावा यह शोध एवं अनुसंधान को प्रोत्साहन देगा। इसके दोष है- लम्बी अवधि का पूर्वानुमान करना कठिन, खर्चीली व्यवस्था तथा सभी तत्वों के प्रभावों का विश्लेषण करना कठिन।
1. अनिश्चितताओं में कमी : भविष्य अनिश्चितताओं तथा परिवर्तनों से भरा होने के कारण नियोजन अधिक आवश्यक हो जाता है। नियोजन के माध्यम से अनिश्चितताओं को बिल्कुल समाप्त तो नहीं अपितु कम अवश्य किया जा सकता है। पूर्वानुमान जो नियोजन का आधार है, की सहायता से एक प्रबन्धक भविष्य का बहुत कुछ सीमा तक ज्ञान प्राप्त करने तथा भावी परिस्थितियों को अपने अनुसार मोड़ने में समर्थ हो सकता है। तथ्यों के विश्लेषण के आधार पर निकाले गये निष्कर्ष बहुत कुछ सीमा तक एक व्यवसायी को अनिश्चितताओं से निपटने का आधार तैयार कर देते हैं।
व्यवसाय का शाब्दिक अर्थ मनुष्य को व्यस्त रखने वाली क्रियाओं से है। एक महत्वपूर्ण तथ्य है कि व्यवसाय में उन्हीं मानवीय आर्थिक क्रियाओं को शामिल किया जाता है जो समाज की विभिन्न आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए की जाती है। खेलना-कूदना, खाना-पीना, यात्रा करना, विश्राम करना जैसी अनार्थिक क्रियाओं को व्यवसाय में शामिल नहीं किया जाता। मैकनॉटन ( Mc Naughton) के शब्दों में, “व्यवसाय शब्द से तात्पर्य, पारस्परिक हित के लिए वस्तुअुओं, मुद्रा अथवा सेवाओं के विनियम से है।” व्यवसाय को परिभाषित करते हएु उर्विक ( Urwick) का कहना है, “यह एक ऐसा उपक्रम है जो समुदायों की आवश्यकता की पूर्ति हेतु वस्तुओं या सेवाओं का निर्माण, वितरण तथा इन्हें उपलब्ध कराता है।” व्यवसाय को परिभाषित करते हुए एल.एच. हैने (L.H. Haney) ने लिखा है, “व्यवसाय से तात्पर्य उन मानवीय क्रियाओं से है जो वस्तुओं के क्रय-विक्रय द्वारा धन उत्पादन या धन प्राप्ति के लिए की जाती है।”
संभावित श्रोताओं को आकर्षित करने के बाद, विज्ञापनदाता को साइन अप करने के लिए उपयोगकर्ताओं को प्रोत्साहन प्रदान करने की आवश्यकता होती है। आमतौर पर यह उस विषय की गहराई से सामग्री में कुछ मुफ्त प्रदान करता है जिसने उपयोगकर्ता का ध्यान आकर्षित किया है। अपने ईमेल होने का मतलब मंच जागरूकता से मंच पर विचार करने के लिए नेतृत्व को विकसित करने की कोशिश कर रहा है।
और तुम हिन्दुओं, तुम कहते हो कि आज जो कष्ट भोग रहे हैं, ये पूर्वजन्म के पापी हैं और आज के उत्पीड़क पिछले जन्मों में साधु पुरुष थे, अतः वे सत्ता का आनन्द लूट रहे हैं. मुझे यह मानना पड़ता है कि आपके पूर्वज बहुत चालाक व्यक्ति थे. उन्होंने ऐसे सिद्धान्त गढ़े, जिनमें तर्क और अविश्वास के सभी प्रयासों को विफल करने की काफ़ी ताकत है. न्यायशास्त्र के अनुसार दण्ड को अपराधी पर पड़ने वाले असर के आधार पर केवल तीन कारणों से उचित ठहराया जा सकता है. वे हैं – प्रतिकार, भय और सुधार. आज सभी प्रगतिशील विचारकों द्वारा प्रतिकार के सिद्धान्त की निन्दा की जाती है. भयभीत करने के सिद्धान्त का भी अन्त वहीं है. सुधार करने का सिद्धान्त ही केवल आवश्यक है और मानवता की प्रगति के लिये अनिवार्य है.
In order to serve the interests of the multinational companies with Indian corporate, the present Government is pursuing blatantly anti-people, anti-workers and anti-national policies at the cost of severely damaging the national economy and destroying its indigenous productive and manufacturing capabilities. Such a regime must be defeated squarely to force the pro-people changes in policies on all fronts. This united platform of the working class resolves to heighten its struggle to that end.
बदलते व्यापारिक परिवेश में गलाकाट प्रतियोगिता के अन्तर्गत कोर्इ देश, एक व्यवसायी या व्यवसाय दूसरे से आगे निकलने के लिए सदैव तत्पर रहता है जिसमें ये घटक व्यवसाय को नयी-नयी ऊँचाइयों पर पहुँचने में सक्षम होते हैं। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकीय घटक के अन्तर्गत वैज्ञानिक शोध (Sciencific research), प्रौद्योगिकीय विकास, यान्त्रिकी, आणविक शक्ति (Atomic energy), सैटेलाइट सम्प्रेषण (Satellite communication), नाभिकीय शोध, आकाशीय शोध प्रयोगशालाएँ आदि प्रमुख हैं। इन घटकों के माध्यम से व्यावसायिक कार्यक्षमता एवं उत्पादन में वृद्धि के लिए व्यावसायिक गतिविधियों का बेहतर संचालन तथा नियन्त्रण सम्भव हो पा रहा है। इस प्रकार विज्ञान एवं प्रौद्योगिकीय घटक, व्यावसायिक वातावरण की दशा एवं दिशा तय करने के दृष्टिकोण से अत्यन्त महत्वपूर्ण घटक है। 

यही कारण है कि विभिन्न धार्मिक मतों में हमको इतना अन्तर मिलता है, जो कभी-कभी वैमनस्य और झगड़े का रूप ले लेता है. न केवल पूर्व और पश्चिम के दर्शनों में मतभेद है, बल्कि प्रत्येक गोलार्ध के अपने विभिन्न मतों में आपस में अन्तर है. पूर्व के धर्मों में, इस्लाम और हिन्दू धर्म में ज़रा भी अनुरूपता नहीं है. भारत में ही बौद्ध और जैन धर्म उस ब्राह्मणवाद से बहुत अलग है, जिसमें स्वयं आर्यसमाज व सनातन धर्म जैसे विरोधी मत पाये जाते हैं. पुराने समय का एक स्वतन्त्र विचारक चार्वाक है. उसने ईश्वर को पुराने समय में ही चुनौती दी थी. हर व्यक्ति अपने को सही मानता है. दुर्भाग्य की बात है कि बजाय पुराने विचारकों के अनुभवों और विचारों को भविष्य में अज्ञानता के विरुद्ध लड़ाई का आधार बनाने के हम आलसियों की तरह, जो हम सिद्ध हो चुके हैं, उनके कथन में अविचल एवं संशयहीन विश्वास की चीख पुकार करते रहते हैं और इस प्रकार मानवता के विकास को जड़ बनाने के दोषी हैं.


क्या इस महान ध्येय के प्रति उनके गर्व को अहंकार कहकर उसका गलत अर्थ लगाया जायेगा? कौन इस प्रकार के घृणित विशेषण बोलने का साहस करेगा? या तो वह मूर्ख है या धूर्त. हमें चाहिए कि उसे क्षमा कर दें, क्योंकि वह उस हृदय में उद्वेलित उच्च विचारों, भावनाओं, आवेगों और उनकी गहराई को महसूस नहीं कर सकता. उसका हृदय मांस के एक टुकड़े की तरह मृत है. उसकी आँखों पर अन्य स्वार्थों के प्रेतों की छाया पड़ने से वे कमज़ोर हो गयी हैं. स्वयं पर भरोसा रखने के गुण को सदैव अहंकार की संज्ञा दी जा सकती है. यह दुखपूर्ण और कष्टप्रद है, पर चारा ही क्या है?
MDMWFI had been continuously in struggles for the basic demands of these workers and have conducted several struggles including March to Parliament. We have met Ministers and officials several times and in spite of their promises, the wages of mid day meal workers had not been increased since 2009.We demand that government immediately increase their remuneration.
The solution reports how up-to-date the computer is based on what source you're configured to sync with. If the Windows computer is configured to report to WSUS, depending on when WSUS last synced with Microsoft Update, the results might differ from what Microsoft Updates shows. This is the same for Linux computers that are configured to report to a local repo instead of to a public repo.
इसका ध्येय अपराधी को योग्य और शान्तिप्रिय नागरिक के रूप में समाज को लौटाना है. किन्तु यदि हम मनुष्यों को अपराधी मान भी लें, तो ईश्वर द्वारा उन्हें दिये गये दण्ड की क्या प्रकृति है? तुम कहते हो वह उन्हें गाय, बिल्ली, पेड़, जड़ी-बूटी या जानवर बनाकर पैदा करता है. तुम ऐसे 84 लाख दण्डों को गिनाते हो. मैं पूछता हूँ कि मनुष्य पर इनका सुधारक के रूप में क्या असर है? तुम ऐसे कितने व्यक्तियों से मिले हो, जो यह कहते हैं कि वे किसी पाप के कारण पूर्वजन्म में गधा के रूप में पैदा हुए थे? एक भी नहीं? अपने पुराणों से उदाहरण न दो. मेरे पास तुम्हारी पौराणिक कथाओं के लिए कोई स्थान नहीं है. और फिर क्या तुम्हें पता है कि दुनिया में सबसे बड़ा पाप गरीब होना है.
A website should be designed keeping in mind the target audiences’ demands. Navigation should be made smooth - moving across pages will not be a problem for the visitors. Extra attention should be given while choosing each page color and text font type and size. Color should be eye-soothing and text font best for easy reading. Placement of content, images, and video clips should be done to make your website SEO-friendly.
×